“ वन नेशन वन राशन कार्ड “ योजना से राशन कार्ड धारकों को खाद्यान्न मिलने की सूचना अब एसएमएस से मिलेगी

रायपुर/10 जुलाई 2020। “वन नेशन वन राशन कार्ड“ योजना में देश के नागरिक का एक ही राशन कार्ड होगा। राशन कार्ड धारी किसी भी राज्य में रहकर राशन ले सकेंगे। खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने राशन कार्ड धारियों को राशन लेने के लिये अब लंबी-लंबी लाईन में खड़ा नहीं होना पड़ेगा इसके लिये एमएसएस सुविधा लागू की है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि मुख्यमंत्री भुपेश बघेल की सरकार ने गरीबों के दर्द को समझा है अब राशन के लिये राशन कार्ड धारियों को लंबी लाइन में खड़े होने की जरूरत नहीं पड़ेगी। राशन कार्ड धारकों को खाद्यान्न लेने की सूचना उनके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसएमएस के जरिए दी जाएगी। घर बैठे ही हित ग्राहियों को जानकारी मिल जायेगी। समय की बचत होगी और परेशानियों से भी छुटकारा मिलेगा।

प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के शासन में राशन दुकान में राशन कार्डधारी राशन लेने के लिये सुबह से शाम तक लाइन में लगे रहने के बावजूद राशन नहीं मिल पाता था तो दूसरे दिन राशन दुकान फिर से आना पड़ता था लंबी-लंबी लाइन लगाकर राशन लेते थे। महिलाएं अपने छोटे-छोटे बच्चों को गोद मे लिए पूरे दिन लाइन में राशन के लिए खड़े रहते थे। जिसके कारण काम धंधे से छुट्टी लेना पड़ता था।

वंदना राजपूत ने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य मे पूर्ववर्ती भारतीय जानता पार्टी की रमन सिंह के नेतृत्व वाली सरकार के समय फर्जी राशन कार्ड से लाखों टन चावल की हेराफेरी हुआ। प्रदेश के लाखों गरीबों के हक के राशन की चोरी नान घोटाला करके हुई, गरीबों की थाली के अनाज को रसुखदार लोगों के द्वारा छिना गया।

पूर्ववर्ती रमन सरकार के शासन में प्रदेश में 10 लाख से ज्यादा फर्जी राशन कार्ड बनाया गया था। राशन कार्ड में नाम और पते फर्जी थे। पूर्ववर्ती सरकार ही पूरा फर्जी था और उनके पूरे काम भी फर्जी। भारतीय जनता पार्टी के सरकार ने लाखों गरीबों के हक के चावल को चुराया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button