एक्सक्लूसिवछत्तीसगढब्रेकिंग न्यूज़राज्य

रायपुर-बिलासपुर रोड पर भीषण हादसा, व्यापारी की मौत, दो गंभीर अपोलो अस्पताल में भर्ती : खड़े ट्रक में घुसी तेज रफ्तार कार, हाईकोर्ट के अ‌धिवक्ता समेत 2 की हालत गंभीर…सिख समाज अध्यक्ष की सड़क हादसे में गई थी जान

A horrific accident on Raipur-Bilaspur road, businessman died, two serious admitted to Apollo Hospital: High speed car rammed into a parked truck, the condition of 2 including High Court advocate was critical… Sikh society president lost his life in a road accident

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

छत्तीसगढ़ के रायपुर-बिलासपुर रोड पर भीषण सड़क हादसा हो गया, जिसमें एक व्यापारी की मौत हो गई। वहीं, हाईकोर्ट के एडवोकेट समेत दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं, उन्हें इलाज के लिए अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि कार सवार तीनों लोग रायपुर से देर रात लौट रहे थे। तभी सरगांव के पास सड़क किनारे खड़ी ट्रक से तेज रफ्तार कार टकरा गई। इस हादसे के बाद सभी घायल करीब एक घंटे तक पड़े रहे। रायपुर से उनके पीछे लौट रहे परिचित ने उन्हें स्थानीय अस्पताल पहुंचाया।

भीषण हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए।

जानकारी के अनुसार बिलासपुर के जूनीलाइन निवासी आशीष शुक्ला हाईकोर्ट के एडवोकेट हैं। वे जूना बिलासपुर के कतियापारा निवासी अपने दोस्त व्यापारी शिवकुमार गुप्ता उर्फ छब्बू खोवा और गोंडपारा के रत्तू उर्फ ज्ञानेंद्र राज उरमलिया के साथ रविवार को रायपुर गए थे। तीनों अर्टिगा कार में सवार होकर रात करीब 12 बजे रायपुर से बिलासपुर लौट रहे थे। तभी सरगांव के पास उनकी तेज रफ्तार कार नेशनल हाइवे के किनारे खड़ी ट्रक क्रमांक सीजी 10 AD 9100 से टकरा गई।

व्यापारी की मौत, दो गंभीर अपोलो अस्पताल में भर्ती

इस घटना में खोवा व्यापारी शिवकुमार गुप्ता उर्फ छब्बू (45) की मौत हो गई। वहीं, एडवोकेट आशीष शुक्ला और रत्तू उरमलिया गंभीर रूप से घायल हैं। उन्हें इलाज के लिए अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कार के उड़े परखच्चे, बुरी तरह क्षतिग्रस्त

यह हादसा इतनी भयावह थी कि एडवोकेट की कार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई और उसके परखच्चे उड़ गए। बताया जा रहा है कि बिना किसी संकेत के ट्रक नेशनल हाईवे के किनारे खड़ी थी, जिसके चलते अनियंत्रित कार ट्रक से जा टकराई।

3 दोस्तों की मौत : तेज रफ्तार बाइक पर सवार थे चार युवक, अनियंत्रित होकर भारी वाहन से भिड़.... मंत्री भी पहुंचे अस्पताल

शिवकुमार अपने साले को डिस्चार्ज कराकर ले गए थे रायपुर

इस हादसे में मरने वाले शिवकुमार गुप्ता के साले की तबीयत खराब चल रही है। उनका अपोलो अस्पताल में इलाज चल रहा था, जिन्हें डिस्चार्ज कराकर रायपुर भर्ती करने के लिए गए थे। वहां से लौटते समय हादसा हो गया है उनकी जान चली गई।

एक घंटे तक पड़े थे सभी घायल

बताया जा रहा है कि रात करीब 2 बजे यह हादसा हुआ, उस समय ट्रक में कोई नहीं था। हादसे के बाद सभी घायल करीब एक घंटे तक कार में पड़े थे। इस दौरान बिलासपुर के मसानगंज निवासी सुनील पंडा रायपुर से लौट रहे थे। उन्होंने अपनी कार रोक कर देखा, तब उन्होंने एडवोकेट आशीष शुक्ला को पहचान लिया और बिलासपुर में उनके रिश्तेदारों को सूचना दी। इसके बाद पुलिस की मदद से घायलों को इलाज के लिए सरगांव स्थित अस्पताल ले जाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें अपोलो अस्पताल में भर्ती किया गया।

सिख समाज अध्यक्ष की सड़क हादसे में गई थी जान

पीटीएस राजनांदगांव के सामने सड़क हादसे में डोंगरगढ़ सिख समाज के अध्यक्ष और उनके बेटे की मौत हो गई। हादसे में उनके बहू को भी गंभीर चोटें आई हैं। पिता ने जहां राजनांदगांव में दम तोड़ा तो बेटे और बहू को गंभीर हालत में भिलाई के निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। यहां से बेटे को रायपुर रेफर किया गया। बेटे को जल्दी रायपुर पहुंचाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर भी तैयार किया गया, लेकिन उसने अस्पताल में ही दम तोड़ दिया।

पेड़ से टकराने के बाद कार के उड़े परखच्चे।

कार को परमजीत सिंह चला रहे थे। कार की रफ्तार काफी तेज होने के कारण सड़क से नीचे उतर गई और किनारे एक पेड़ से टकरा गई। टक्कर इतनी तेज थी कि कार के सामने का हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया। हादसे के तुरंत बाद सभी को राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल पहुंचाया गया। यहां डॉक्टरों ने हरभजन सिंह भाटिया को मृत घोषित कर दिया। जानकारी के मुताबिक डोंगरगढ़ सिख समाज के अध्यक्ष हरभजन सिंह भाटिया (65 वर्ष) अपने बेटे परमजीत सिंह उर्फ बॉबी और बहू गुरमीत कौर के साथ शनिवार को पोती की शादी का कार्ड बांटने निकले थे। तीनों कार में सवार होकर सुबह 10.30 बजे डोंगरगढ़ से राजनांदगांव के लिए निकले थे। दोपहर 12.30 बजे के करीब उनकी कार पीटीएस के सामने अनियंत्रित हो गई।

Pornography Case : पोर्नोग्राफी मामले में SC ने राज कुंद्रा को दी अग्रिम जमानत, पूनम पांडे और शर्लिन को भी राहत

ग्रीन कॉरिडोर किया गया तैयार लेकिन हीं बचा बेटा

परमजीत सिंह और उनकी पत्नी गुरमीत कौर को गंभीर हालत में रायपुर रेफर किया गया था। नजदीक होने से दोनों को पहले भिलाई के एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। यहां भी डॉक्टरों ने जवाब दे दिया। इस पर भिलाई के पार्षद वशिष्ट नारायण मिश्रा ने रायपुर ले जाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनवाया था, लेकिन उससे पहले ही परमजीत सिंह की मौत हो गई। उनकी पत्नी गुरमीत कौर का भिलाई में इलाज चल रहा है।

कुछ दिनों बाद थी पोती की शादी

पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि हरभजन सिंह भाटिया की पोती की कुछ ही दिनों में शादी होने वाली है। इसी का कार्ड बांटने के लिए वो लोग कार से निकले थे। हरभजन सिंह डोंगरगढ़ सिख समाज के अध्यक्ष के साथ मेडिकल व्यवसायी थे।

Back to top button
close