भारत सरकार ले सकती है बड़ा फैसला … इन देशों से आए यात्रियों के लिए RTPCR जांच रिपोर्ट अनिवार्य कर सकती है सरकार

Government can make RTPCR test report mandatory for passengers coming from these countries

Covid19, corona, नई दिल्ली: दुनिया के कई देशों में एक बार फिर से Covid19 के मामले तेजी से बढ़ने के बीच भारत सरकार अगले सप्ताह से चीन और पांच अन्य स्थानों से आने वाले यात्रियों के लिए नकारात्मक आरटी-पीसीआर (RTPCR) रिपोर्ट अनिवार्य कर सकती है. आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने कहा कि चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, हांगकांग, थाईलैंड और सिंगापुर से आने वाले अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए अगले सप्ताह से ‘एयर सुविधा’ फॉर्म भरना और 72 घंटे पहले आरटी-पीसीआर परीक्षण अनिवार्य किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें... भारत में फिर लौटेंगे लॉकडाउन ? मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग वाले दिन, यह लग गया lockdown … जानें हर सवाल का जवाब

अगर लहर आती है, तो मौत और अस्पताल में भर्ती का आंकड़ा बेहद कम रहेगा

यह भी आगाह किया गया है कि अगले 40 दिन महत्वपूर्ण होंगे, क्योंकि भारत में जनवरी में कोविड में उछाल देखा जा सकता है. स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि अगर लहर आती भी है, तो मौत और अस्पताल में भर्ती का आंकड़ा बेहद कम रहेगा.

यह भी पढ़ें... कोरोना अलर्ट ब्रेकिंग : सभी कलेक्टरों को पत्र…स्वास्थ्य विभाग ने लिखा पत्र

30-35 दिन बाद भारत में अहम

एक अधिकारी ने कहा, विगत में, यह पाया गया था कि पूर्वी एशिया के कोविड-19 की चपेट में आने के 30-35 दिन बाद भारत में महामारी की एक नयी लहर आई थी… यह एक प्रवृत्ति रही है.

यह भी पढ़ें... बंद बंद बंद : सभी स्कूलों में अवकाश का ऐलान, श्मशान घाट पर लगी लंबी कतारें, पूरे शहर में ‘लॉकडाउन’

भारत आए 6,000 अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की कोविड-19 जांच में 39 पॉजिटिव

पिछले दो दिनों में, भारत आए 6,000 अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की कोविड-19 जांच की गई, जिनमें 39 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. चीन और दक्षिण कोरिया सहित कुछ देशों में कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ने के बीच सरकार ने लोगों से सतर्क रहने को कहा है और राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों को किसी भी अकस्मात स्थिति से निपटने के लिए तैयारी करने को कहा है.

यह भी पढ़ें... Corona ब्रेकिंग : स्वास्थ्य मंत्रालय का सभी राज्यों के लिए निर्देश जारी, कोरोना के खतरे के बीच केंद्र की गाइडलाइन…त्योहारों का भी जिक्र

प्रधानमंत्री मोदी और स्वास्थ्य मंत्री ने तैयारियों का जायजा लिया

मामलों में उछाल के बाद सरकार ने शनिवार से प्रत्येक अंतरराष्ट्रीय उड़ान में आने वाले यात्रियों में से दो प्रतिशत की बिना किसी क्रम के कोरोना वायरस जांच को अनिवार्य कर दिया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कोविड के मामलों में तेजी की स्थिति से निपटने की तैयारियों का जायजा लेने के लिए बैठकें की हैं.

यह भी पढ़ें... PM मोदी ने बुलाई हाई लेवल मीटिंग…. दुनिया में कोरोना का कहर ! हाई लेवल मीटिंग में शामिल हो सकते हैं शाह

देश भर के अस्पतालों में ‘ मॉक ड्रिल’ की गई

कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ने की किसी भी स्थिति से निपटने की तैयारियों का जायजा लेने के लिए मंगलवार को देश भर के अस्पतालों में ‘ मॉक ड्रिल’ की गई. वहीं, मांडविया ने कहा कि विश्व में कोविड के मामले बढ़ने के मद्देनजर देश सतर्कता बरत रहा है और इससे निपटने के लिए तैयार है. कोरोना वायरस के ओमीक्रोन के उप-स्वरूप बीएफ.7 से मामलों में हालिया वृद्धि हुई है. आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि बीएफ.7 के फैलने की दर बहुत अधिक है और एक संक्रमित व्यक्ति 16 लोगों को संक्रमित कर सकता है.

भारत सरकार ले सकती है बड़ा फैसला … इन देशों से आए यात्रियों के लिए RTPCR जांच रिपोर्ट अनिवार्य कर सकती है सरकार

⇒⇒⇒ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें FACEBOOK या TWITTER पर फॉलो करें. Thebharatexpress.com पर विस्तार से पढ़ें देश की अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button