कुएं में गिरा नन्हा हाथी : वन विभाग की टीम ने JCB से निकाला बाहर

Little elephant fell in the well: Forest department team pulled out from JCB

छत्तीसगढ़ के जशपुर में मंगलवार रात हाथी का एक बच्चा पानी से भरे कुएं में गिर पड़ा। अगले दिन बुधवार सुबह वन विभाग को सूचना मिली तो टीम मौके पर पहुंची। इसके बाद जेसीबी की मदद से हाथी के बच्चे को कुएं से बाहर निकाला गया। कुएं से बाहर निकलते ही भागने के दौरान एक ग्रामीण को घायल भी कर दिया। बताया जा रहा है कि गांव में 12 हाथियों का दल घुस आया था। ग्रामीणों ने उन्हें खदेड़ा तो भागने के दौरान बच्चा कुएं में जा गिरा था। मामला पत्थलगांव क्षेत्र का है।

ALSO READ : छत्तीसगढ़ ब्रेकिंग : नाबालिग का अपहरण फिर बलात्कार , पुलिस ने लड़की को छुड़ाकर आरोपी को भेजा जेल

ग्रामीणों ने खदेड़ा तो कुएं में गिरा बच्चा

जानकारी के मुताबिक, लैलूंगा की ओर से 12 हाथियों के दल ने कटंगजोर गांव में प्रवेश किया था। रात में हाथी गांव में उत्पात मचा रहे थे। इस पर ग्रामीण एकत्र हो गए और मशाल और ढोल लेकर हाथियों के दल को खदेड़ने लगे। इस दौरान भागते समय हाथी का एक बच्चा कछार गांव स्थित पानी से भरे कुएं में जा गिरा। इसके बाद स्थानीय ग्रामीणों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी। दस दौरान रात भर हाथी का बच्चा पानी में ही फंसा रहा। सुबह टीम पहुंची तो बच्चे को बाहर निकाला।

ALSO READ : प्रेमिका को प्यार की दर्दनाक सजा….देखें PHOTO … प्रेमिका की 20 फीट नीचे दफनाई लाश : गिरफ्तार प्रेमी ने कहा- रोज रात उसका भूत डराता था

हाथी के बच्चे को दल से मिलाने का प्रयास

बताया जा रहा है कि हादसे के दौरान बच्चा दल से बिछड़ गया। दल के बाकी 11 हाथी रायगढ़ वन क्षेत्र में प्रवेश कर गए हैं। इसके बाद वन विभाग की टीम बिछड़े हुए हाथी के बच्चे को उसके दल से मिलाने का प्रयास कर रही है। वन विभाग के मुताबिक, हाथियों का दल रायगढ़ जिले बाकारुमा रेंज की ओर जा चुका है। वहीं कुंए से निकाले गए हाथी के बच्चे को वन विभाग ने लुड़ेग के झंडाघाट की ओर जंगल मे भेजा है। टीम उसके ऊपर निगरानी रख रही है।

धारा 144 लागू ….इस शहर में 10 फरवरी तक धारा 144 लागू , इन चीजों पर लगाई गई पाबंदी

कुएं में गिरा नन्हा हाथी : वन विभाग की टीम ने JCB से निकाला बाहर

⇒⇒⇒ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें FACEBOOK या TWITTER पर फॉलो करें. Thebharatexpress.com पर विस्तार से पढ़ें देश की अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button