इन शहरों में लॉकडाउन का ऐलान : LOCK हुए सब रास्ते …. स्कूल-कॉलेज समेत ये सेवाएं हुई बंद

Announcement of lockdown in these cities: All roads locked.... These services including school-college stopped

बीजिंग(भाषा) चीन ने अपने साढ़े छह करोड़ नागरिकों को सख्त कोविड-19 प्रतिबंधों के तहत लॉकडाउन में रखा है और देश में आगामी राष्ट्रीय अवकाशों के दौरान घरेलू यात्रा को हतोत्साहित किया जा रहा है। चीनी कारोबारी पत्रिका ‘काइशिन’ द्वारा रविवार देर रात प्रकाशित आंकड़ों के मुताबिक देश की सात प्रांतीय राजधानियों समेत 33 शहर पूर्ण या आंशिक लॉकडाउन के दायरे में हैं जिससे यहां रहने वाले साढ़े छह करोड़ लोग प्रभावित हैं। पत्रिका ने कहा कि 103 शहरों में संक्रमण देखा गया है और यह 2020 में महामारी के शुरुआती दिनों के बाद से सर्वाधिक संख्या है।

संक्रमण के अपेक्षाकृत कम मामलों के बावजूद अधिकारी “शून्य कोविड” की नीति का पालन कर रहे हैं जिसमें लॉकडाउन, पृथकवास और किसी संक्रमित व्यक्ति के निकट संपर्क में आने पर संदिग्धों को घरों में रखने की बात कही गई है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य कमीशन की रिपोर्ट के मुताबिक 1.4 अरब की आबादी वाले चीन में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1,552 नए मरीज सामने आए।

ये खबर भी पढ़े : दुखद खबर : दिग्गज BJP विधायक का निधन, कार में आया हार्ट अटैक, जा रहे थे कार्यक्रम में शामिल होने

दक्षिणपश्चिमी चेंगदू शहर की लगभग 2.1 करोड़ आबादी में अधिकर लोग अपने फ्लैट या रिहाइशी परिसरों में सिमटे हैं, जबकि पूर्वी बंदरगाह शहर तियानजिन में कोविड-19 के 14 मामले सामने आने के बाद अब ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित की जा रही हैं। चेंगदू के क्विंगलाई और शिनजिन जिलों में करीब 10 लाख लोगों को लॉकडाउन के दायरे से बाहर किया गया है। बुधवार को तीन और दौर का व्यापक परीक्षण किया जाएगा। सभी स्कूल बंद हैं और कक्षाओं का संचालन ऑनलाइन हो रहा है।

चीन में 10-12 सितंबर तक मिड-ऑटम उत्सव है और यह चंद्र नव वर्ष (लूनर न्यू ईयर) के बाद देश का दूसरा सबसे महत्वपूर्ण पर्व है। वायरस निरोधक उपायों का सामान्य रूप से अर्थव्यवस्था, यात्रा और समाज पर व्यापक असर पड़ा है, लेकिन चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी का कहना है कि ये (प्रतिबंध) वायरस के व्यापक प्रसार को रोकने के लिए आवश्यक हैं।

ये खबर भी पढ़े : बड़ा झटका : गृहमंत्री ने दिया इस्तीफा, इसलिए लिया ये फैसला…

कोरोना वायरस पहली बार वर्ष 2019 के अंत में मध्य चीनी शहर वुहान में पाया गया था। संक्रमित मिले व्यक्ति के निकट होने के कारण लॉकडाउन की जद में आने या किसी पृथकवास केंद्र में भेजे जाने के डर से लोगों के काम, सामाजिक मेल-जोल और यात्रा की आदतों पर गंभीर असर पड़ा है। महामारी के प्रसार के बाद से चीन ने करोड़ों लोगों को बेहद सख्ती से लागू लॉकडाउन के दायरे में रखा है।

बिना कपड़ों के प्रेमी की बाहों में थी मां, अचानक आ धमका बेटा, फिर वो हुआ जिसकी आप उम्मीद भी नहीं कर सकते…जाने पूरा मामला

⇒⇒⇒ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें FACEBOOK या TWITTER पर फॉलो करें. Thebharatexpress.com पर विस्तार से पढ़ें देश की अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button