LOCKDOWN BREAKING : लॉकडाउन लगाने की जरूरत…केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने की बड़ी बैठक…..पढ़े पूरी खबर ….

नई दिल्ली। केरल में कोरोना वायरस (Corona Virus) के हालात बेहद चिंताजनक हो चुके हैं. राज्य में बीते 24 घंटे के भीतर 32, 803 मामले सामने आए हैं. वहीं 21,610 की रिकवरी हुई है और 173 मौतें हुई हैं. केरल से अब पड़ोसी राज्यों तमिलनाडु (Tamil Nadu) और कर्नाटक (Karnataka) में केस बढ़ने का खतरा है.

जिसे देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया (Mansukh L. Mandaviya) ने आज समीक्षा बैठक की है. केंद्र ने कर्नाटक और तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्रियों से कहा कि इन राज्यों में केरल की वजह से केस न बढ़े इसलिए पर्याप्त कदम उठाने की जरूरत है. केंद्र ने कहा कि कर्नाटक और तमिलनाडु के वो जिले जो केरल से सटे हैं वहां पर खास कदम उठाने की जरूरत है. इन जिलों में वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज करने की जरूरत है.

इससे पहले खबर आई कि स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के शीर्ष आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि बिगड़ते हालात पर काबू पाने के लिए केरल में रणनीति के तहत लॉकडाउन की जरूरत है. सूत्रों का कहना है कि अगर सख्‍त लॉकडाउन और कड़े कंटनेमेंट नियम अपनाए जाएं तो सितंबर के मध्‍य तक केरल में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों में कमी आ सकती है.

इस तरह का लॉकडाउन पूरे जिला स्तर पर नहीं, बल्कि मोहल्ले व कस्बों के आधार पर लगाया जाए, जहां अधिक लोग पॉजिटिव मिल रहे हैं. केरल में 85 फीसदी कोरोना मरीज होम आइसोलेशन में हैं. लेकिन इन मरीजों की ठीक से मॉनीटरिंग नहीं हो रही है. इनके चलते मामले बढ़ रहे हैं क्योंकि वे लोग लगातार घूम रहे हैं और लोगों के बीच संक्रमण फैला रहे हैं.

Back to top button