कांग्रेस सांसद संतोख के निधन पर बेटे ने लगाए बड़ा आरोप ; बोले – डॉक्टर्स ने बरती लापरवाही, नहीं तो बच जाते पापा…

Son made big allegations on the death of Congress MP Santokh; Said – Doctors were negligent, otherwise father would have been saved…

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में शनिवार को एक दुखद घटना हो गई. यात्रा के साथ चल रहे कांग्रेस से सांसद 76 वर्षीय चौधरी संतोख सिंह का निधन हो गया है. इस दौरान उनके बेटे ने डॉक्टर्स पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उनके बेटे ने कहा है कि जब उनके पिता की तबियत खराब हुई तब वह पंप करने पर सांस ले रहे थे. लेकिन वहां मौजूद डॉक्टर्स ने उन्हें साइड कर दिया और कहा कि उन्हें अच्छे से पता है कि उन्हें क्या करना है. उन्होंने मौके पर मौजूद एंबुलेंस में इमरजेंसी सुविधाएं न होने की बात भी कही है.

सांसद चौधरदी संतोख सिंह के बेटे और विधायक विक्रमजीत चौधरी ने यह आरोप लगाए हैं. उन्होंने कहा कि डॉक्टर्स की टीम के पास इमरजेंसी शॉक देने का कोई साधन नहीं था. डॉक्टर्स बहुत ही हड़बड़ाहट में पिता जी को साथ ले गए. वहीं इन गंभीर आरोपों के बाद जालंधर के सिविल सर्जन डॉ रमन शर्मा ने कहा है कि यह पूरी तरह से गलत आरोप है. उन्होंने कहा कि जो एंबुलेंस यात्रा के साथ चल रही थी वह एसपीजी से मान्यता प्राप्त है. डॉक्टर रमन का ने एक समाचार पत्र से चर्चा के दौरान बताया कि यह एंबुलेंस पीएम मोदी के साथ भी चली थी. उन्होंने कहा कि एंबुलेंस में कोई कमी नहीं थी.

डॉक्टर रमन ने सभी आरोपों को खारिज किया है और कहा है कि चौधरी संतोख सिंह को दो बार शॉक दिया गया था. उन्हें तुरंत ही लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था. 5 बेहतरीन डॉक्टर्स की टीम भी इस एंबुलेंस के साथ चल रही थी. उन्होंने यह भी कहा कि संतोख सिंह को उनके बेटे के सामने ही शॉक दिया गया था.

घबराहट के बाद हुए कार्डिएक अरेस्ट के शिकार

कांग्रेस नेता एवं जलंधर से सांसद संतोख चौधरी का भारत जोड़ो यात्रा के दौरान दिल का दौरा पड़ने के कारण शनिवार को निधन हो गया है, जिसके बाद यात्रा 24 घंटे के लिए रोक दी गई. चौधरी 76 वर्ष के थे. कांग्रेस के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी ने भी 15 जनवरी को जलंधर में होने वाले अपने संवाददाता सम्मेलन को स्थगित कर दिया है और अब यह 17 जनवरी को होशियारपुर में होगा. पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रताप सिंह बाजवा ने बताया कि दो बार सांसद रहे चौधरी कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व वाली पदयात्रा में फिल्लौर में भाग लेते समय बेहोश हो गए थे.

राहुल गांधी ने जताया शोक

यात्रा में मौजूद रहे बाजवा ने बताया कि चौधरी को एम्बुलेंस के जरिए फगवाड़ा के एक अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. उन्होंने कहा कि बाद में उनका पार्थिव शरीर उनके आवास ले जाया गया. चौधरी फिल्लौर में यात्रा में शामिल हुए थे, लेकिन उन्हें कुछ देर बाद बेचैनी महसूस हुई और वह बेहोश हो गए.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने चौधरी के आकस्मिक निधन पर शोक व्यक्त किया. गांधी ने ट्वीट किया, श्री संतोख सिंह चौधरी के आकस्मिक निधन से स्तब्ध हूं. वह जमीन से जुड़े परिश्रमी नेता, एक नेक इंसान और कांग्रेस परिवार के मजबूत स्तंभ थे जिन्होंने युवा कांग्रेस से सांसद तक अपना जीवन जनसेवा के लिए समर्पित किया. शोकसंतप्त परिवार के प्रति संवेदनाएं व्यक्त करता हूं.

कांग्रेस सांसद संतोख के निधन पर बेटे ने लगाए बड़ा आरोप ; बोले – डॉक्टर्स ने बरती लापरवाही, नहीं तो बच जाते पापा…

⇒⇒⇒ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें FACEBOOK या TWITTER पर फॉलो करें. Thebharatexpress.com पर विस्तार से पढ़ें देश की अन्य ताजा-तरीन खबरें

Related Articles

Back to top button